Janmasthmi shayari status in hindi |Janmastami 2020

By

Happy janmashtami/Janmastami shayari – हिन्दू धर्म को मानने वाले, भगवान् श्री कृष्ण के जन्म के उत्सव को जन्माष्टमी के रूप में मनाते हैं जन्माष्टमी न सिर्फ भारत में, बल्कि पुरे विश्व में भगवान् श्री कृष्ण के भक्तो द्वारा मनाया जाता हैं और यह दिन भगवान् श्री कृष्ण के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता हैं

पुराणों को पढने पर पता चलता हैं भगवान् श्री कृष्ण का जन्म अष्टमी तिथि को रोहणी नक्षत्र के समय हुआ था इसलिए नन्दलाल का जन्मदिन इसी काल में मनाया जाता हैं इस दिन भक्तो द्वारा पूरी रात भजन गाया जाता हैं

वैसे तो हर जगह, इस धार्मिक पर्व को अलग अलग तरीके से मनाया जाता हैं कही पर पूरी रात भर भजन गाया जाता हैं तो कही पर रात में ठीक बारह बजे मटकी फोड़ी जाती हैं और कुछ जगह पर इन्हें झुला में बिठा कर, झुला झुलाया जाता हैं हर जगह पर जन्माष्टमी अलग अलग रूप में मनाया जाता हैं

इस बार जन्माष्टमी 11 अगस्त 2020 को मनाया जायेगा जिस दिन मगलवार हैं भगवान कृष्ण को प्यार करने वाला हर भक्त इस दिन का बेसब्री से इंतजार करता हैं इसके आगमन पर पुरे देश में जोर शोर से तैयारी शुरू हो जाती हैं आपको हमारी तरफ से जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाये और आप अपने परिजनों को भी इस शुभ अवसर पर krishna janmashtami shayari जरुर भेजे

krishna janmastami shayari in hindi

चेहरा बड़ा प्यारा है,
रंग बड़ा निराला है,
बड़ी से बड़ी परेशानी को
कुछ ही पल में हल कर डाला है।

Shayari for janmashtami

श्री कृष्ण हैं जिनका नाम,
मथुरा हैं जिसका धाम,
दुनिया के पालनकर्ता को
हम सब करें प्रणाम।

माखन की मटकी, मैया का प्यार
नन्द नगरी की खुशबु, बारिश की फुहार,
राधा की उम्मीद कन्हैया का प्यार
मुबारक हो आपको जन्माष्टमी का त्यौहार।

Janmashtami shayari in hindi

माखन चोर के कदम सभी के घर आये
हम सभी मिलकर भगवान् कृष्ण का जन्मदिन मनाये
मुसीबत आपकी ज़िन्दगी से दूर भाग जाये
जन्माष्टमी की आपको हार्दिक शुभकामनाये

Read also – Happy navratri 2020

मैया के हाथो का माखन, यशोधा का दुलार,
ब्रह्माण्ड के सितारे कन्हैया का श्रृंगार।
सावन की बारिश और भादों की बहार,
नन्द के लाला को हमारा बार-बार नमस्कार।
मुबारक़ हो आपको कृष्णा जन्माष्टमी का त्यौहार!

happy krishna janmastami

आखे झुकें और दर्शन हो जाए,
सर झुके और आश्रीवाद मिल जाए,
ऐसी नजर कहाँ से लाऊं,
मेरे प्यारे नन्द लाल,
कि आपको याद करूँ,
और आपके दर्शन हो जाएँ।

Janmashtami ki shayari

प्रेम से कृष्ण का नाम जपो,
दिल की हर इच्छा पूरी होगी,
कृष्ण आराधना में लीन हो जाओ,
उनकी महिमा जीवन खुशहाल कर देगी।

विष कैसा होता हैं भोलेनाथ से पूछो
मीरा से पूछोगे तो अमृत ही कहेंगी
प्रेम तो प्रेम होता हैं
राधे राधे

तपस्या अगर पार्वती जी की थी
तो प्रतीक्षा शिव जी ने भी की होगी
आखो में आसू अगर सीता जी के थे
तो तड़प राम जी में भी रही होगी
राधा कृष्ण को न पा सकी
तो अधूरे कृष्ण भी रहे होंगे
राधे राधे

मुनुष्य को अपनी और खीचने वाला
यदि दुनिया में असली चुम्बक हैं
तो वो सिर्फ प्रेम हैं
राधे राधे

Shayari on janmashtami

देख के तुम्हारी मुस्कुराहट हे भगवन
हम अपने होश गवा बैठे
हम होश में आने वाले ही थे
की आप फिर मुस्कुरा बैठे
बाके बिहारी लाल की जय

Read also – Ganesh chaturthi shayari


Leave a Comment