100+ Dosti shayari ( दोस्ती शायरी )

दोस्त जिसके साथ आप हॅसते हो, रोते हो, पर ज़िंदगी जीना सीखते हो

दम नहीं किसी में जो मिटा सके हमारी हस्ती को
जंग तलवारो को लगती है दोस्त मजबूत इरादे को नहीं


तारों के साथ चाँद जगमगाता है।
मुश्किलों में अकेले इंसान डगमगाता है।
कभी भी काटों से मत घबराना मेरे यार।
क्योंकि काटों में भी फूल मुस्कुराता है।
******************************

इतनी सारी  बातें मत किया करो मुझसे
दोस्ती को प्यार में बदलते वक्त नहीं लगता है
******************************

ना जाने सालों बाद कैसा समां होगा
हम सब दोस्तों में कौन कहा होगा
फिर अगर मिलना होगा तो मिलेंगे ख्वाबों में
जैसे सूखे गुलाब मिलते है किताबों में
******************************

new dosti shayari
new dosti shayari

गुलाब की सुंगध को चुराया नहीं जा सकता,
सूरज की चमक को छुपाया नहीं जा सकता,
दूरियां कितनी भी हो जाए  दोस्तों में,
लेकिन चाहकर भी दोस्तों को भुलाया नहीं जा सकता
******************************

friendship shayari in hindi

दोस्ती का तोफ़ा सबको को नहीं मिलता
ये वो फूल है जो सभी  बाग़ीचे में नहीं खिलता
इस फूल को कभी टूटने मत देना क्यूंकि
टूटा हुआ फूल कभी भी  काम नहीं आता
*****************************


Read also Udas shayari

सभी दोस्त से बात करना चाहत है हमारी,
सब दोस्त खुश रहे हसरत है हमारी,
कोई हमें याद करें या नाकरे,
लेकिन सभी दोस्त को याद करना आदत है हमारी
******************************

कोशिश करो कोई आपसे ना रूठे,
ज़िन्दगी में अपनों का साथ ना छूटे,
दोस्ती कोई भी हो उसे ऐसा निभाओ,
की उस दोस्ती की डोर ज़िन्दगी भर न टूटे।।
******************************

लोग चेहरा देखते है ,हम दिल देखते है ,
लोग सपने देखते है हम सच्चाई देखते है,
लोग दुनिया मे दोस्त देखते है,
हम दोस्तो मे दुनिया देखते है।
******************************

2 thoughts on “100+ Dosti shayari ( दोस्ती शायरी )”

  1. 😍😍😍😍 wa waa waa waa!!..
    Ma’am , apne to rula hi diya…dosti ke har pehloo ko likh diya aapne…loved it !!will definitely share this with my friends.

    Reply

Leave a Comment